Best Hindi Inspirational Story | खुद पर विश्वास रखें

Best Hindi Inspirational Story For believe
खुद पर विश्वास रखें!
Best Hindi Inspirational StoryBest Hindi Inspirational Story

दोस्‍तों कई बार हम लोग सफलता से एक कदम दुर होते हैं इसका एक ही वजह हैं खुद पे विश्वास नहीं होना।

विश्वास एक ऐसी Power हैं जिसके दम पर आप बड़ी से बड़ी असम्‍भव काम को सम्‍भव कर सकते हैं।

चलिए इसे एक Best Hindi Inspirational Story के माध्‍यम से समझने कि कोशिश करते हैं।

एक बार कि बात हैं मैं एक मंडी में गया। वहां देखा एक रेडी थी उस पर फल थे लेकिन उस रेडी पर फल वाला नहीं था।

Best Hindi Inspirational Story 1Best Hindi Inspirational Story

मैंने उस इलाके के आस पास उस रेडी वाला को ढूंढा जबकि वहां हमें कोई नहीं मिला । रेडी के छत के उपर एक बोर्ड पर लिखा था, यदि आप जल्‍दी में हैं तो फल तौल ले और फल के जितने पैसे बनते हैं उतने पैसे इस गत्ते के नीचे रख दें और चले जाए ।

क्योंकि मुझे बीच-बीच में घर जाना पड़ता है। मेरी मां बुढ़ी है, घर में कोई और देखभाल के लिए नहीं है। तो मुझे खाना खिलाने के लिए, दवा देने के लिए, टॉयलेट कराने के लिए बार बार जाना पड़ता है।

उस बोर्ड पर एक और लाइन लिखी थी यदि आपके पास पैसे नहीं हैं तो आप Free में ले जाए, आपको इजाजत है।

ये भी पढ़े- हमेशा खुश रहने के 5 Secrets How to be Happy

ये पढ़ने के बाद में मुझे लगा कि यह कौन हो सकता है जिसने आज के जमाने में इतना विश्वास लोगों पर कर रहा हैं।

मुझे आस पास कोई दिखा नहीं तो वहां पर सारे फल के price लिखा हुआ था। तो मैंने price देख कर 2 दर्जन केला और 1kg सेव ले लिए और जितने रूपये बने उतना रूपये वहां पर परे गत्ते के नीचे रख दिया।

मैंने देखा वहां पर, पहले से पैसे रखे हुए थे कुछ ₹100 का नोट, कुछ 10 का नोट और कुछ 50 के नोट भी थे। तो मुझे लगा कि लोग इमानदारी से फल ले कर पैसे तो रख रहे हैं।

शाम में अपने घर आ गया, घर आ कर खाना-वाना बनाया, खाना खाकर मैं फिर से  घूमने के लिए निकला रात में, तो रेडी वाला हमें वहां दिख गया।

एक लड़का उस रेडी को धक्का लगा कर के अपने घर की तरफ जा रहा था।

मैंने उसे आवाज दी। उसने बोला- बाबू साहब फल नहीं है। कल आना कल मिलेंगे। फिर मैंने बोला कि हमने फल ले लिये हैं और पैसे भी रख दिये थे उस गत्ते के नीचे। तुमसे कुछ बातचीत करना चाहता हूँ तो ये बात सुन कर वह रुक गया।

उस लड़के को लेकर मैंने एक ढ़ाबे पर गया और उससे पुछा- खाना-वाना खाओगे तो उसने मना कर दिया।

फिर हमने चाय मंगा ली और चाय पर चर्चा चलने लग गई।

Best Hindi Inspirational Story 3Best Hindi Inspirational Story

फिर मैंने नाम पूछा, फिर पूछा कि जो ये कहानी है आपकी बोर्ड वाली। आप ऐसे ही फल रख कर के चले जाते हैं,  रेडी छोड़ करके चले जाते हैं। आपको डर नहीं लगता कि आपका  सामान चोरी हो जाएगेंं, आपके पैसे कोई चुरा कर ले जाएगें। 

तो उसने क्‍या कहा- ये जान कर आप हैरान हो जाओगे!

उसने कहा- बाबू जी मेरी माँ पिछले दो-तीन साल से बहुत बीमार रहती है,  मेरे कोई बेटा बेटी नहीं है, मेरी बीवी भी अब इस दुनिया में नहीं है। 

अब इस दुनिया में मैं और मेरी माँ है।

तो एक दिन मैंने अपने माँ से कहा- आप मुझे बहुत बार-बार कहती है कि मैं घर में रहा करू, तू चला जाता है तो अकेले मेरा जी घबराता है, मन नहीं लगता लेकिन आप समझो कि मेरे पास में पैसा नहीं हैंं। अगर मैं घर में रहूंगा तो पैसा कहाँ से आएगा और आपकी देखभाल कैसे होगी?

बाबू साहेब मेरी माँ,  ऊपर वाला पर बहुत भरोसा रखती है। ऊपर वाला को याद करके माँ ने हमें कहा-

बेटा! तू रेडी को वही मंडी में छोड़ कर के आ जाया कर और एक बोर्ड लगा दे, और उस बोर्ड पर यह सारी कहानी तु लिख दे और तुम देखना तुम जब शाम में पैसा लेने जाएगा तो तुम्हारे सारे पैसे वहां पर होंगे।

तुम्हारे एक भी पैसे आगे पीछे नहीं होंगे जितने के फल तुम डालोगे। उतने पैसे वहां पर तुम्हें जरूर मिलेंगे।

मैने अपनी माँ से कहा कि क्या आईडिया दे रही हो माँ! आप सोच भी रही हो कि क्‍या बोल रहे हो? आज की दुनिया में इतने चोर उचक्‍के हैं और ऐसा माहौल है।

Best Hindi Inspirational Story 1

ऐसे में कौन मेरी बात पर यकीन करेगा और जिस रेडी पर कोई फल वाला नहीं होगा। वहां से फल कौन खरीदेगा, वहां पर एक आदमी को तो होना जरूरी है तभी तो फल बिकेगा।

इस पर मैंने माँ  को कहा- माँ फालतू की बात मत करो। बस ऊपर वाला को याद करों।  हमारी किस्मत में जितना बनता है वह अपने आप हमारी किस्मत में आ जायेगा।

ये भी पढ़े- Best Hindi Motivational Story | दुनिया में पैसे से भी महंगी चीज क्‍या हैं?

उस दिन से बाबू साहेब 2 से 3 साल हो गए हैं। रोज यह काम करता हूँ।

सुबह जाता हूँ रेडी पर, सारे फल रख कर वहीं पर छोड़ कर आ जाता हूँ। सीधा शाम में जाता हूँ । लोगों को शायद लगता है कि मैं बीच-बीच में आता होगा लेकिन जाता नहीं हूँ।

और आप यकीन नहीं करोगे। रेडी पर रोजाना ₹1 भी ऊपर नीचे नहीं होता। उल्टा रुपए ज्यादा मिलते हैं। कई बार लोग माँ के नाम पर कुछ और वहां पर ज्यादा रुपए रख जाते हैं।

कई बार छोटे-छोटे बच्चे माँ के लिए खाने पीने की चीज रख जाते हैं। एक बार छोटी बच्ची गुलाब के फुल रख के चली गई साथ में एक पर्ची भी छोड़ गई उस पर लिखा था ये आपके मम्मी के लिए हैं।

एक बार एक डॉक्टर वहां पर अपनी नंबर वाली कार्ड रख गए और लिख गए यदि आपकी माँ ज्‍यादा बीमार हो तो आप इस नंबर पर call कर लिजीएगा।

तब से सब कुछ वैसा ही चल रहा है। हमारी किस्मत में जितना है, माँ के आशीर्वाद से, ऊपर वाले के आशीर्वाद से सब कुछ हैं।

Moral of Story

दोस्‍तों ये कहानी (Best Hindi Inspirational Story) हमें बहुत सारी बातें बताती है कि हमें खुद पर विश्‍वास रखें, अपने ऊपर वाला पर यकिन रखें। लाइफ में ऐसी कोई भी चीज नहीं हैं जो आपको नहीं मिल सकती।  

वक्‍त लग सकता है लेकिन यदि आप अपने काम में, पढ़ाई में लगे रहे तो एक दिन सफलता आपको जरूर मिलेगी।

वो कहते हैं न ऊपर वाले के घर में देर हैं, अंधेर नहीं।

Also Recommend to Inspirational Story

  1. एक कोयला कि कहानी | Inspiring hindi Story to Overcome Depression
  2. दुनिया से हटकर काम कैसे करें? Real Successful Story Hindi
  3. Motivational Story for Students in Hindi | अपनी तुलना दूसरों से ना करें
  4. Success का कोई Shortcut नहीं होता | Inspirational Story of Success in Hindi
  5. आलसी लड़के की कहानी | Inspirational Story with Moral

दोस्‍तों! ये लेख Best Hindi Inspirational Story आपको कैसा लगा? यदि यह Hindi Article आपको अच्‍छा लगा तो आप इस हिंदी लेख को Share कर सकते हैं। 

इसके अतिरिक्‍त आप अपना Comment दे सकते हैं और हमें Email भी कर सकते हैं। आप हमारे Facebook और Instagram पर भी जुड़ सकते हैं।

यदि आपके पास Hindi में कोई Article, Inspiring story, Life Tips, Inspiring Poem, Hindi Quotes, Money Tips या कोई और जानकारी हैं और यदि आप वह हमारे साथ Share करना चाहते हैं तो कृपया उसे अपनी फोटो के साथ हमें E-mail करें। हमारी E-mail Id हैं- [email protected] यदि आपकी Post हमें पसंद आती है तो हम उसे आपके नाम और Photo के साथ अपने Blog पर Publish करेंगे….धन्‍यवाद!

Leave a Reply

close