Motivational Story Hindi | जिस दिन आपने सोच बड़ी कर ली उस दिन आप….

Motivational Story Hindi 

Motivational Story Hindi: इस दूनिया में जिस दिन आपने अपनी सोच बड़ी कर ली उस दिन बड़े- बड़े लोगो के दिमाग में आप आने लगेगें। आप खुद एक दिन बड़े ईसान बन जाएगें।

Motivational Story Hindi1Motivational Story Hindi

एक बार कि बात है , एक भिखाड़ी Railway Station पर रहा करता था । उसका रोज का काम था एक Station से दुसरे Station पर जाना और Train के कोच में लोगो से भीख मांगना। फिर पुन: Return अपने Station पर आ जाता था। उस भिखाड़ी का रोज का यही काम था और अपनी जिंदगी जी रहा था।

एक दिन व‍ह Station से दूसरे  Station भीख मांग रहा था। तभी कोच में सुट-बुट पहना हुआ एक आदमी को देखा। भिखाड़ी को लगा ये व्‍यापारी बहुत धनी लगता है यदि मैं उसके पास जाऊ तो उससे हमे ज्‍यादा पैसा मिल सकता है।

भिखाड़ी उसके पास चला गया और भीख मागने लगा, उस धनी व्‍यक्ति ने कुछ भी पैसा नहीं दिये। भिखाड़ी ने बार-बार पैसा मागने लगा इस पर उस धनी व्‍यक्ति ने गुस्‍सा हो कर और चिल्‍लाने लगा, वह बोला तुम बार-बार पैसे क्‍यों मांग रहे हो?  जब मैने एक बार बोल दिया है कि पैसे नहीं दूँगा तो तुम फिर भी मांग रहे हो ।

और दूसरी बात यदि मैं पैसा दे भी दूँ तो तुम्‍हारे पास मेरे देने को क्‍या है? तुम बताओ- तुम क्‍या दोगे मुझे ?

              तभी  भिखाड़ी ने जबाब दिया:- मै तो भिखाड़ी हूँ बाबुजी ! मेरे पास क्‍या है , कुछ भी तो नहीं, मैं लोगो से भीख मांगता हूँ । मेरी औकात ही क्‍या है जो मैं आपको दे सकता हुँ।

तो उस व्‍यक्ति ने कहा:- ”यदि कुछ दे नहीं सकते तो मांगना बंद कर दो” और उस व्‍यक्ति ने Station पर उतरा फिर घर चला गया।

भिखाड़ी ने भी Station से बाहर आ गया और सोचने लगा कि मैं लोगों को क्‍या दे सकता हुँ। तभी उसने अपने आस पास फूल के पौधा देखा और सोचने लगा फूल तोड़ते है और लोगो को फूल देते है। अब से मैं लोगों को फूल दुगाँ, जब कोई हमे भीख देगा तो।

Motivational Story 1Motivational Story Hindi

      भिखाड़ी ने अगले दिन से ही इस Process पर काम करने लगा। जब भी उस भिखाड़ी को कोई पैसे देता तो उसके बदले में एक फूल Return Gift करता। ऐसी Behavior लोगो को अच्‍छी लगने लगी। लोगों ने भी सोचने लगा चलो एक ऐसा भिखाड़ी तो दिखा जो भीख के बदला में फूल दे रहा है।

     ये काम भिखाड़ी के जिंदगी में चलने लगा यदि कोई भीख देता तो उसे एक फूल Return में दे देता । कुछ दिन बीत जाने के बाद एक दिन Station  पर वही व्‍यक्ति दिखा।

भिखाड़ी भाग कर गया उसके पास और कहा बाबुजी :-  अबकी बार मेरे पास ”कुछ देने के लिए” हैं। आप हमे कुछ पैसे भीख में दो तब मैं Return Gift करुगा।

वो आदमी ने बड़ी मुसकिल से विश्‍वास करके कुछ पैसे दिया, तभी भिखाड़ी ने अपनी झोली में से एक फूल निकाल कर उस व्‍यक्ति को दे दिया। ये देख कर उस व्‍यक्ति ने बड़ा ही खुश हुआ और कहा मुझे लगता है तुमने लेन-देन का मतलब समझ लिया है, अब तुम व्‍यापार करना सिख गये हो।

Also read: Best Motivational Story in Hindi | जिद पर अड़े रहना

”जिंदगी में जब तक आप कुछ दे नहीं सकते तब तक कुछ लेना नहीं चाहिए।”

ये बोल कर फिर वह निकल गया। अबकी बार ये बात भिखाड़ी को लग गया और सोचने लगा ”कुछ तो बात है” ।

अबकी बार Station से बाहर आया और जोर से चिल्‍ला कर बोला अब मैं भिखाड़ी नहीं, व्‍यापारी हूँ

Motivational Story2Motivational Story Hindi

अब मैं भी उस ईसान  की तरह बड़ा आदमी बन के दिखाऊगा, सुट-बुट पहनुगा, बड़ा बैग होगा, पैसे होंंगे ऐसा बोलने लगा। तो आस-पास के जो भी लोग देख रहे थे वो सब बोलने लगे, ये पागल-वागल हो गया है।

Also Read:- Paisa kaise kamaye | पैसे कमाने के लिए क्या करें?

वहाँ पर 6 महीना तक  भिखाड़ी नहीं दिखाई दिया।  

एक दिन दो सुट पहने व्‍यक्ति मिलते है इनमें से जो भिखाड़ी वाला था वह बोला:- नमस्‍कार ! पहचाने , ये आपसे मेरी तीसरी मुलाकात है But उस व्‍यक्ति ने पहचानने से इनकार कर दिया और बोला नहीं-नहीं मुझे लग रहा है हम दोनो पहली बार मिल रहे है।

इस पर इसने बोला आप नहीं पहचाने , हम सायद आपको याद नहीं  ”मैं वही भिखाड़ी हुँ जो लोगों से भीख मांगता था ।

Motivational Story Idea

Also Read: Motivational Story in Hindi आपकी life बदल सकती हैं

 उस दिन आपने हमें दो बात सिखाई थी।  पहली बात में लेन-देन का मतलब समझाया और दुसरी बात मुझे बताया यदि मैं सोच को बड़ा करु तो आपके जैसे बन सकता हुँ। तो देखिये आज मैं आपकी तरह बन गया हुँ।

मैंने पहले फूल तोड़ कर देने शुरु कर दिये, फिर मैने फूल खरीदने शुरू कर दिये और आज मेरा फूलों का बहूत बड़ा BUSINESS(व्‍यापार) हैं।

ये छोटी सी कहानी हमे जिन्दगी में बहुत बड़ी बात सिखाती है।

Moral of the Story

जब तक आप मेहनत नहीं करेगें, अपनी ऊर्जा नहीं लगायेगें, कोशिश नहीं करेगें जिंदगी में तब तक आपको Result नहीं मिलेगा।

और दूसरी बात हम Life Time यही सोचते है मेरी जिंदगी यही तक है, आगे कुछ भी नहीं हो सकता है। तो सबसे पहले अपनी चादर को बड़ी करिये और आराम से पैड़ फैलाए।

दोस्‍तों आपके अंदर असीम उर्जा है बस उसे पहचानने कि जरूरत है और अपने आप पर काम करने कि जरूरत है जिस दिन से आप अपनी सोच बड़ी कर ली उस दिन से आपमे परिवर्तन आना शुरू हो जायेगा।

Also Recommended to Read:

  1. Akbar Birbal Story | Inspiration story in Hindi | जो होता है, अच्छे के लिए होता है।
  2. दुनिया से हटकर काम कैसे करें? Real Successful Story Hindi
  3. Real Life Inspirational Stories in Hindi | एक राजा कि कहानी
  4. Best Hindi Motivational Story | दुनिया में पैसे से भी महंगी चीज क्‍या हैं?
  5. एक कोयला कि कहानी | Inspiring hindi Story to Overcome Depression

दोस्‍तों आशा करता हूँ ये Motivational Story Hindi आपको बहुत ही अच्‍छी लगी होगी, इसे Like करके आप हमारे मनोबल को बढ़ा सकते है। इस Inspiration story in Hindi से आप क्‍या क्‍या सीखे हमें Comment Box में बताए और इस Story को अपने उन दोस्‍तों को Share करें जो करना तो बहुत कुछ चाह रहे है But उन्‍हें कुछ Idea नहीं मिल पा रहा है कि क्‍या करें ये Story Help करेंगी….धन्‍यवाद!

Ravi Ranjan

मैं इस ब्लॉग का संस्थापक और एक ब्लॉगर हूँ। यहाँ पर मैं नियमित रूप से अपने पाठकों के लिए उपयोगी और मददगार जानकारी शेयर करता हूँ।

4 thoughts on “Motivational Story Hindi | जिस दिन आपने सोच बड़ी कर ली उस दिन आप….

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *