advertisement

Republic Day speech in hindi 2021 – गणतंत्र दिवस

Republic Day speech in hindi – 26 January

26 जनवरी हमारे देश के लिए बहुत खास दिन है। गण और तंत्र को मिला कर गणतन्त्र बना हैं, इसका मतलब होता है, जनता के द्वारा जनता के लिये शासन

Republic Day speech in hindiRepublic Day speech in hindi

 

लगभग 200 सालों तक अंग्रेजों कि गुलामी के बाद भारत 15 अगस्त 1947 को आजाद हुआ। आजादी के बाद देश के विकास के एक ऐसे कानुन की जरूरत हुई जिससे देश को न सिर्फ मजबूत बनाया जा सके बल्कि देश को तरक्की के रास्ते पर भी ले जाया जा सके।

भारत देश का सविंधान डॉक्टर भीमराव अम्बेडकर के नेतृत्व में लिखा जिसे लिखने में 2 साल 11 महीने 18 दिन लगे और फिर हमारा सविंधान 26 जनवरी 1950 को हमारे देश पर लागू हुआ। 26 जनवरी 1950 को हमारे देश भारत एक गणतंत्र देश बन गया था।

Popular Article जरुर पढ़ें:- Top 10 Best Good habits for students hindi | छात्रों की 10 सबसे अच्छी आदतें

Republic Day 26 जनवरी को ही क्यों मनाया जाता है?

26 जनवरी को इसलिए Select गया था क्योंकि 1930 में इसी दिन भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस (INC) ने भारत को पूर्ण स्वराज घोषित किया था।

और भी कुछ कारण जिसके वजह से ही 26 जनवरी को ही गणतंत्र दिवस मनाया जाता हैं। जैसे- सन 1930 में 26 जनवरी के ही दिन रावी नदी के तट पर कांग्रेस के लाहौर अधिवेशन में  पंडित जवाहरलाल नेहरू (Jawahrlal Nehru ji) ने पूर्ण स्वतंत्रता की घोषणा कर दी थी।

26 जनवरी 1930 को ही प्रण लिया गया था कि जब तक पुरी तरह से स्वतंत्रता नहीं मिल जाती तब तक स्वाधीनता संग्राम आंदोलन चलता रहेगा। इसी वजह से 26 जनवरी को गणतंत्र दिवस के तौर पर चुना गया और 26 जनवरी 1950 से गणतंत्र दिवस मनाया जाने लगा।

गणतंत्र दिवस का इतिहास क्‍या हैं?

भारत देश के कुछ महान भारतीय स्वतंत्रता सेनानी नेताओं में इन महान नेताओं का नाम आता है। जैसे महात्मा गाँधी, भगत सिंह, चन्द्र शेखर आजाद, लाला लाजपत राय, सरदार बल्लभ भाई पटेल, लाल बहादुर शास्त्री इन स्वतंत्रता सेनानियों ने हमारे भारत देश को आजाद कराने के लिए अपनी जान भी न्यौछावर कर दी थी।

लगातार कई वर्षों तक इन महान लोगों ने ब्रिटिश सरकार का सामना किया और हमारे देश को उनकी गुलामी से आज़ाद कराया।

भारत वासी उनके इस बलिदान को कभी भी भुला नहीं सकते हैं क्‍योंकि इस आजादी को पाने के लिए कितने वीरों ने अपनी जान गवा‍ दी जब जा कर हमें आजादी मिली। उन्ही के कारण आज हम अपने देश में आज़ादी से सांस ले रहे हैं।

Republic day Speech in hindi 2020Republic Day speech in hindi

26 जनवरी का Importance बनाए रखने के लिए इसी दिन संविधान निर्मात्री सभा द्वारा स्वीकृत संविधान में भारत के गणतंत्र स्वरूप को मान्यता प्रदान की गई। जैसा कि आप सभी जानते है कि 15 Aug 1947 को हमारा देश, हजारों वीरों के बलिदान के बाद अंग्रेजों  के शासन से आजाद हुआ था।

इसके बाद 26 जनवरी 1950 को अपने देश में भारतीय शासन और कानून व्यवस्था लागू हुई। इस आजादी को पाने में अपने देश की हजारों-हजारों माताओं की गोद सूनी हो गई थी, हजारों बहनों बेटियों के माँग का सिंदूर मिट गया था, तब कहीं इस महान बलिदान के बाद हमारा देश स्वतंत्र हो सका था।

और उनके इन महान कामों के लिए ही आज भी उनका नाम भारत देश के इतिहास में लिखा है। न ही सिर्फ लिखा ब्लकि आज भी देश का बच्चा बच्चा उन सभी वीरों को याद करता है।

ये भी पढ़ें:- बेस्ट 5 पढ़ाई में मन लगाने के तरीके | How to Concentrate on Studies Tips in Hindi

गणतंत्र दिवस समारोह कैसा होता हैं? 

Republic Day को पूरे देश में विशेष रूप से भारत की राजधानी दिल्ली में बहुत ही उत्साह के साथ मनाया जाता है।

इस दिन सबसे पहले भारत के प्रधानमंत्री और राष्ट्रपति इंडिया गेट पर स्थित अमर जवान ज्योति पर देश के शहीदों को श्रद्धांजलि देते हैं।

speech on republic day in hindiRepublic Day speech in hindi

 

इसके बाद भारत के राष्ट्रपति द्वारा भारतीय राष्ट्र ध्वज को फहराया जाता हैं और फिर राष्ट्रीय ध्वज तिरंगा को सलामी दिया जाता है । इसके बाद सामूहिक रूप में खड़े होकर राष्ट्रगान गाया जाता है।

इसके बाद भव्य परेड निकाली जाती है जो देश की एकता और अखंडता के साथ भारत की सैन्य ताकत को भी दर्शाती है। दिल्ली में राजपथ पर शानदार परेड के साथ-साथ देशवासी अनेक सांस्कृतिक कार्यक्रमों के गवाह बनते हैं।

आदरणीय अतिथिगण और मेरे साथियों गणतंत्र दिवस भारत का राष्ट्रीय पर्व है इसे सभी धर्मों के लोग समान भाव से मनाते हैं। इसका संबंध किसी धर्म या जाति से न होकर राष्ट्र से होता है इसलिए इसे राष्ट्रीय पर्व कहा जाता है। स्वतंत्रता दिवस, गणतंत्र दिवस और गांधी जयंती हमारे राष्ट्रीय पर्व हैं।

ये राष्ट्रीय पर्व भारतीय जनमानस को एकता के सूत्र में पिरोते हैं। ये पर्व उन शहीदों देशभक्तों का स्मरण कराते हैं जिन्होंने राष्ट्र की स्वतंत्रता, गौरव और इसकी प्रतिष्ठा को बनाए रखने के लिए अपने प्राण की आहुति दे दी।

इस दिन सभी बच्चे सुबह सुबह जल्दी से नहा धोकर अपने Uniform में आपने साथ तिरंगा झंडा और फूलमाला लेकर अपने School, College जाते है जहां भारत के सभी स्कूलों में गणतंत्र दिवस मनाया जाता है सबसे पहले तिरंगा झंडा पहराया जाता है फिर जनगण का राष्टीय गान सभी एक साथ गाते है।

इसके बाद बच्चे गणतंत्र दिवस के दिन झाकी, गीत संगीत और तरह तरह के देशभक्ति के नाटक मंचन करते है बहुत से स्कूलो में तो झाकिया भी निकाली जाती है जो देखने लायक बनता है। इसे देख कर हम सभी प्रतिज्ञा लेते हैं कि हमेशा अपने देश के झंडा को उचां बनाए रखें।

ये भी पढ़ें:- 6 Morning Habits of Successful People in Hindi | सफल लोगों की सुबह की आदतें

26 जनवरी के दिन पूरे देश में सार्वजनिक जगहों पर भी तिरंगा झंडा फहराया जाता है सभी सरकारी इमारतो के साथ हर जगह पूरे देश में इस दिन तिरंगा झंडा ही दिखता है और पूरा देश तिरंगामय हो जाता है।

Republic Day speech in hindi
(गणतंत्र दिवस पर भाषण)

Republic Day speech Republic Day speech in hindi

Respected Sir,
Ma’am dear Friends

आदरणीय शिक्षकों और मेरे प्यारे साथियों,

आज 26 जनवरी हैं और आज के दिन ही गणतंत्र दिवस मनाया जाता हैं। मैं आप सभी को इस दिन की शुभकामनाएं देता/देती हूं। हम सभी आज गणतंत्र दिवस मनाने के लिए एकत्र हुए हैं।

 गणतंत्र दिवस हर साल 26 जनवरी को मनाया जाता है क्योंकि इसी दिन हमारे देश का संविधान लागू किया गया था। 26 जनवरी 1950 को हमारा देश भारत गणतंत्र देश बन गया।

इस दिन की सबसे अच्छी बात यह है कि सभी जाति एवं वर्ग के लोग इसको एक साथ मिलकर मनाते हैं। भारत का संविधान एक लिखित संविधान है। हमारे संविधान को बनने में 2 साल 11 महीने और 18 दिन का समय लगा था।

भारतीय संविधान दुनिया में सबसे बड़ा लिखित संविधान है, 26 जनवरी 1950 को डॉ. Rajendra Prasad ने गवर्नमेंट हाउस के दरबार Hall में भारत के पहले राष्ट्रपति के रूप में शपथ ली थी।

 भारत के पहले गणतंत्र दिवस के मुख्य अतिथि इंडोनेशिया के राष्ट्रपति सुकर्णो थे, गणतन्त्र का अर्थ है, जनता के द्वारा जनता के लिये शासन। आज के दिन स्वतंत्रता सेनानियों को याद करना बेहद जरूरी है, क्‍योंकि उन्‍हीं की बदौलत आज हम सब आजाद हैं।

 हमारे देश के महान नेताओं और स्वतंत्रता सेनानियों महात्मा गांधी, भगत सिंह, चन्द्रशेखर आजाद, लाला लाजपत राय, सरदार वल्लभ भाई पटेल, लाल बहादुर शास्त्री और अनगिनत देशभक्‍तों ने ब्रिटिश हुकूमत से लोहा लिया और अपनी जान की कुर्बानी देकर हमें आजादी दिलाई। इस आजादी में ना जाने कितने वीरों कि जान गई।

अब मैं अपनी वाणी को विराम देना चाहुंगा और एक बार फिर आपको अपने भाषण को ध्यान से सुनने के लिए धन्यवाद देना चाहता हूँ /  चाहती हूँ!

जय हिन्द! जय भारत! वन्दे मातरम!”

Also Recommended to Read for Success

  1. 51 Best The Truth of life Quotes in hindi- जिंदगी से जुड़ी सच्ची बातें
  2. आत्मविश्वास को कैसे बढ़ाये | 7 Tips to Improve Self-confidence in Hindi
  3. 9 Qualities of alone people in Hindi | अकेले रहने वाले लोगो के 9 गुण
  4. 40 Best Life Quotes Images in hindi | जो आपके सोचने का नजरि‍या बदल देगी
  5. 5 Habits of Successful People in Hindi | सफल व्यक्ति के 5 आदतें
  6. समय का महत्व | Importance of time management in hindi

आशा हैं दोस्‍तों! आपको ये लेख (Republic Day speech in hindi) बहुत ही अच्‍छी लगी होगी। आप Republic Day speech in hindi 2021 Article को अपने दोस्‍तों और परिवार वालों के साथ Social media पर Share करें ताकि उनको भी Benefit हो सके।

Leave a Reply

close