advertisement

Short Moral Story | Over Thinking

Short Moral Story -Over Thinking

दोस्‍तों इस Short Moral Story के पीछे का जो Message है वो Life के हर  Moment में काम आता हैं।

इस कहानी का जो Hidden Message है, वो कम ही लोग समझ पाते है वो सायद हर लोगों के Life में घटित होती है।

short moral storyShort Moral Story

कहानी है उस व्‍यक्ति कि जो किसी भी Lock को खोल सकता था। चाहे वो किसी भी प्रकार का Lock हो जैसे घर का Lock हो, तिजोरी का Lock हो, जेल को Lock हो कितनी भी High Security का Lock हो वो खोल देता था।

moral story shortalso read: 30 Inspirational Quote In Hindi

लोग हैरान होते थे ये कैसे करता है । तो एक दिन Event रखा गया और Challenge रखा गया कि वो व्‍यक्ति एक Chamber का Lock खोलेगा और उससे बाहर आयेगा।

 उसे उस Chamber के अंदर Lock किया जाएगा और उस Chamber को Lock करके Swimming Pool के अंदर डाला जाएगा।

moral story short in hindimoral story short in hindi

अगर Lock खोल पाया तो बाहर आ जाएगा  Otherwise वो Emergency Bell बजा कर अपना हार accept कर सकता है कि मैं Lock नहीं खोल सकता हूँ ।

उस व्‍यक्ति ने ये Risk लिया और Challenge accept कर लिए क्‍योंकि उसे यह विश्‍वास था कि वो ये कर देगा।

ये भी पढ़े : Take Risks: सफलता के लिए रिस्क लेना जरुरी है!

बहुत लोग Camera ले कर आये क्‍योंकि उस moment को shoot कर सकें।

व्‍यक्ति को उस  Chamber में डाला गया। Gate बंद करके धीरे-धीरे उसे पानी के अंदर डाला गया और खेल सुरू कर दिया गया। लोग देख रहे थे और सब Excited थे कि वो Gate खोल कर बाहर आ जाएगा।

उस व्‍यक्ति ने अपने जेब से एक तार निकाला और Lock को खोलना Start किया। एक-एक Second उस व्‍यक्ति के लिए बहुत ही कठिन था क्‍योंकि साँस रोकनी बहुत ही मुशकिल हो रही थी। लोग सोच रहे थे ये कुछ ही Second के अंदर Lock खोल देता है But इस बार इतना समय क्‍यु ले रहा है।

Second जैसे बढ़ते गये उस व्‍यक्ति का दम घुटने लगा, उसको बहुत परेसानी हो रही थी उस Lock को खोलने में उस व्‍यक्ति ने उपना सारा जोर लगा दिया, अपनी पुरी Tricks लगा दी, अपना पुरा दिमाग लगा दिया। वो Lock खोल नहीं पा रहा था।

Finally उसको हार मानना ठिक लगा। उसने  Emergency Ring बजा दी कि मैं हार मान रहा हूँ, मैं ये Lock नहीं खोल सकता। वो जैसे ही Emergency Ring बजाई वैसे ही वो Chamber उपर आने लगा।

ये भी पढ़े Inspirational Story Hindi: संंघर्ष के बिना सफलता नहीं

ये भी पढ़े : Motivational Speech in Hindi | सफलता के लिए चलते रहना हैं जरूरी

वो व्‍यक्ति हार चुका था So वो बहुत हारा हुआ Feel कर रहा था, उसको सर्म आ रही थी इसलिए वो उपर नहीं देख पा रहा था। वो Chamber में नीचे बैठ रहा होता है ।

”Chamber के Gate को पकर कर जैसे ही नीचे बैठने को कोशिश कर रहा होता है कि Chamber का Gate खुल जाता है जैसे ही धक्‍का लगाता है side के तरफ। उसे पता लगता है Gate Lock था ही नहीं उसने सोचा ये मेरे दिमाग में पहले क्‍यों नहीं आया कि शायद Gate Lock भी नहीं किया गया होगा। जब इतनी Tricks लगाने के बाद Lock को नहीं खोल पा रहा था, उसके दिमाग में ये बात क्‍यु नहीं आया कि शायद Gate Lock किया गया ही ना हो।”

जब Solution बहुत आसान होता है तो आप कितने ही Talented क्‍यों ना हो, आपका Talent कभी काम नहीं आयेगा अगर आपको ठहर के सोचना नहीं आता। ”कई बार कुछ नहीं करना Solution होता है।”

कई बार ये देख लेना बस Solution होता है कि वाकई में Problem है या भी नहीं।

हम आस-पास के लोगों से हर बार ये सुनते है, Books में पढ़ते है, Video में देखते है कि Busy रहो, हमेशा Busy रहो,  Busy लोगों कि Value रहती है एक Trend सा चल गया है कि Busy लोग, बड़े लोग होते है।

Busy रहना अच्‍छा है ये एक तरह का Swag है लोगो के लिए But कुछ Time, कुछ भी ना करना सही होता है क्‍योकि जब कुछ नहीं कर रहे होते है तब ऐसे Ideas आते है जो Busy होते वक्‍त नहीं आ सकते

ये बाते बहुत कम लोग सोच पाते है इसी वजह से जितनी भी Start up हुई है वो 20 साल के आस-पास के लोगों ने कि है क्‍योंकि ये सबसे Free Time वाली Age होती है।

ये भी पढ़े Hard work Vs Smart work सफलता के लिए क्‍या हैं जरुरी?

वो व्‍यकित Chamber के Lock को खोलने में, लोगों को Impress करने में, खुद को अच्‍छा साबित करने में, कैसे Lock खोलुगा इन सब में Busy हो गया था। जिसके वजह से उसके दिमाग में एक पल के लिए भी ये नहीं आया कि ऐसा भी हो सकता है कि Lock हो भी ना।

Short Moral Story से सीख:-

इसी तरह हम अपना जीवन जी रहे है, कभी हम ठहर कर नहीं सोच रहे है। कभी-कभी हमें अपने आप को Time देना चाहिए और अपने बारे में सोचना चाहिए But ऐसा कभी नहीं करते लोग बस हमेशा अपने आप को Busy रखते है। सच तो ये है जो लोग कुछ नहीं करते है वो लोग कमाल करते है

कई बार हम छोटी सी बात को लेकर परेशान हो जोते है जबकि ये बात हमें बाद में realize होती है। इसलिए जब भी जिंदगी में कोई परेशानी आये तो घबराये नहीं उस पर बिचार करे और परेशानी के जड़ तक पहूचें और अपने आप को समय दें इसके बाद अपने आप आपको Solution मिल जाएगा।

Also Read Story:

  1. Chanakya Niti in Hindi : आत्मविश्वास और धैर्य बढ़ाने के तरीके
  2. 22yr old Dron Young Scientist NM Pratap | बना दिया 600 ड्रोन
  3. Heart Touching Story of Father and Daughter in hindi
  4. शाहरुख खान – Real Life Inspirational Story in Hindi for Success
  5. Don’t Quite & Never Give Up Story in Hindi

दोस्‍तों आशा करता हूँ ये Short Moral Story आपको बहुत ही अच्‍छी लगी होगी, इसे Like करके आप हमारे मनोबल को बढ़ा सकते है। इस Short Moral Story से आप क्‍या क्‍या सीखे हमें Comment Box में बताए और इस Story को अपने उन दोस्‍तों को Share करें जो Over Thinking करते हैं But उन्‍हें कुछ Idea नहीं मिल पा रहा है कि क्‍या करें तो उन्‍हें ये Story Help करेंगी….धन्‍यवाद!

3 Comments

  1. Pankaj Kumar May 14, 2020

Leave a Reply

close